Family Sex Story | Maa Beta Sex Story

पापा से छुप कर माँ की चुदाई! 🤫🤫🤭

लाला बिहार के रहने वाले 20 साल के जवान है जिन्होंने अपनी ही माता के साथ अश्लील रात बिताई। उनका कहना है लॉकडाउन उनकी मम्मी काफी समय से बेचान रहती थी क्यों की पिता जी ने चुदाई करना बंद कर दिया था। धीरे धीरे मम्मी क हवस बढ़ने लगी तो लाला को कुछ अच्छा करने के लिए गन्दा कदम उठाना पड़ा। लाला की मम्मी सेक्सी और भारी शरीर वाली है और वही दूसरी तरफ लाला पतला दुबला अब देखना ये है की उन्होंने अपनी माँ बेटे की चुदाई कहानी में क्या लिखा है।


दोस्तों मेरा नाम लाला है और मैं 20 साल का बिहार का रहने वाला लड़का हूँ। मैं अपने माँ बाप का एकलौता लड़का हूँ इसलिए मुझे घर में काफी प्यार किया जाता है।

ये बस इसी साल के लॉकडाउन की बात है जब मेरी मम्मी बेचैन होने लगी। मुझे लगा की उनकी तबियत खराब है पर जैसा नहीं था। इस हिंदी सेक्स कहानी में मैं आपको बताउगा की क्यों मेरी मम्मी बेचैन हो रही थी। मेरी कहानी “पापा से छुप कर माँ की चुदाई” पूरी पढ़े और जाने मेरी मम्मी की अन्तर्वासना

गांड तोड़ चुदाई की हॉट सेक्स कहानी

Mummy Ki Chudai Kahani

दोस्तों मम्मी बेचैन रहा करती थी और अकेले घंटो तक कभी कमरे में बंद रहती तो कभी काफी देर तक नहाती रहती। मैंने कई बातबार पिता जी को भी कहा पर उन्होंने कुछ नहीं कहा।

एक दोपहर जब पिता जी सो रहे थे तो मम्मी उनके साथ लेट गई। उस वक्त मैं अपने कमरे से आया और मम्मी से पूछे ही वाला था की खाना क्या बनाया है तो मैंने कुछ गलत देख लिया।

पापा सो रहे थे और मम्मी उनके लिंग पर हाथ रख उसे दबाए जा रही थी। उसके थोड़ी देर बाद उन्होंने अपना हाथ पजामे में डाला और उसे दबाने हिलने में लगी रही।

अचानक पापा उठे और उन्होंने गुस्से से उनका हाथ पकड़ा और दूर फेक दिया।

पापा – अहह हैट क्या कर रही है !!

मम्मी – अभी तुक दवाइयों का कोई फयदा नहीं हुआ क्या ??

पापा – मेरी जान मत खा मुझे सोने दे !!

उसके बाद मम्मी ने कुछ नहीं कहा और कुछ सोचने लगी। मैं बाहर खड़ा हैरान हो गया ये जान कर की मेरे पापा का लिंग अब खत्म हो गया है। उसके बाद मम्मी ने अपना फ़ोन निकाला और उसमे कुछ देखते हुए अपनी पजामी में हाथ डाल लिया। मैं बाहर खड़ा हैरानी से अपने माँ बाप की वो दुनिया देख रहा था जिसका मुझे आज तक नहीं पता लगा।

मम्मी गन्दी वीडियो देख अपनी योनी में उनलगी करने लगी और मैं उन्हें देखता रहा। उसके बाद देखते ही देखते मेरे लिंग ने पानी छोड़ दिया और मेरा माल कमरे के दरवाजे के बाहर बिखर गया।

देसी भाई बहन की हॉट सेक्स कहानी

मैं डर गया और चुपके से धीरे धीरे पोछा लाया और अपने लिंग को साफ कर के चला गया। पर मम्मी को पता लग गया को की जब वो बाहर निकली तो उन्हें जमीं थोड़ी चिपचिपली लगी।

उन्होंने जब सुंघा तो उन्हें पता लग गया की ये लिंग से निकला माल है और घर में सिर्फ दो मर्द है।

मैं लिंग हिला कर नहाने चला गया और मम्मी पीछे पीछे आकर मुझे देखने लगी। जब मैं बाहर निकला तो मम्मी मुझे बोली “सुधर जा तू काफी शैतान हो गया है !”

लाला – क्या हुआ मम्मी !!

मम्मी – तू जो अभी कर के गया है न वो मुझे सब पता है !!

मम्मी के ऐसा बोलते ही मेरा लिंग फिरसे खड़ा होने लगा। उस वक्त मैंने अपनी कमर पर तोल्या बांध रखा था जो नीचे गीर गया और मम्मी मेरा लटकता आधा खड़ा लिंग देखने लगी।

वो अपनी आंखे बड़ी बड़ी कर उसे देखने लगी साथ ही सेक्सी गोटिया भी देखने लगी।

मम्मी को ऐसा देख मेरा लिंग और खड़ा हो गया और पूरा पथर की तरह टाइट हो गया।

मम्मी ने एक बार पीछे पापा के कमरे की तरफ देखा और फिर धीरे धीरे आगे बढ़ने लगी।

लाला – मम्मी वो आप क्या करने वाली हो !!

मम्मी – अगर तूने किसी को भी इस बारे में बताया तो मैं तेरे पापा से तुझे पिटवा दूगी !!

बस दोस्तों मैं चुपचाप खड़ा रहा ओट मम्मी बेशर्म होकर नापने बड़े बड़े नाख़ून वाले होठो से मेरा लिंग सहलाने लगी।

(बेटे का लिंग देख माँ की योनी गीली होने लगी। बीटा शर्म और डर के मरे खड़ा और और माँ उसका लिंग हिला हिला कर पुरे मजे लेने लगी। बेटे को आनंद भी आ रहा था जिस वजह से उसका लिंग टाइट हो रखा था। देखते ही देकते लिंग के ऊपरी भाग से पानी की एक लार टपकने लगी।)

मम्मी मेरा लिंग हिलाए जा रही थी तो देखते ही देखते मेरे लिंग से पानी की एक लार टपक पड़ी। मम्मी उसे देख और सेक्सी हो गई और जोर जोर से मेरा लिंग हिलाने लगी। लिंग हिला हिला कर वो मेरे अण्डे भी उछालने लगी और मुझे दर्द होने लगा।

धीरे धीरे उन्होंने अपनी पजामी में हाथ डाला और अपनी चुत में ऊँगली करने लगी। मैंने हिमत कर अपना एक हाथ आगे बढ़ाया और उनकी छाती पर रख दिया तो मम्मी मुझे देखने लगी और बोली “हाँ ये हुई न बात !!”

उनके ऐसा कहते ही मुझे ऐसा लगा की अब तो मेरी लॉटरी लग गई है। मैंने अचानक से मम्मी के होठो को चूमना शुरू कर दिया और उनके ममें दबाने लगा। धीरे धीरे उनकी चूचिया टाइट हो गई और मैं समज गया की अब मम्मी की छाती को जबरदस्त चुसाई चाहिए।

बारिश और मेरी चुत चुदाई

मैंने मम्मी के सूट में हाथ डाला और ब्रा से दोनों ममो को बाहर निकाल दिया और उन्हें अपने होठो से चूसने लगा।

तभी मम्मी ने धीरे से मेरे कान में कहा “चलो ऊपर वाले कमरे में करते है !!”

मैंने उन्हें हाँ कहा और मैं मम्मी के साथ ऊपर चुदाई करने चला गया। इस तरह मैंने पापा से छुप कर मम्मी की चुदाई की।

ऊपर जाते जाते मैं ये सोचने लगा की काश इस वक्त बारिश हो रही होती तो कितना अच्छा होता बारिश में माँ बेटे की सेक्सी चुदाई कितनी मजेदार होती। इसके अलावा अगर मैं माँ को खेत में चोदता तो कितना मजा आता पूरा देसी सेक्सी का आनंद मिलता।

(ऊपर जाते ही माँ ने दरवाजा बंद कर दिया और लाला शरमाते हुए बिस्तर पर बैठ गया। उसके बाद लाला की माँ आगे बड़ी और अपना सूट ब्रा उतार कर लाला का मुँह अपनी छाती में दबोच लिया।)

मैं खूब मजे से मम्मी के ममो में अपना मुँह घुसा कर उन्हें चाटने लगा और उनकी कोमलता का आनंद लेकर अपने लिंग को और ज्यादा टाइट करने लगा। कुछ देर मम्मी के चुच्चो को चूसने के बाद मम्मी नीचे बैठी और मेरा लिंग हिलाते हुए मेरे अंडे चूसने लगी।

लाला – मम्मी इन्हे मत चुसो दर्द होता है !!!

माँ – बेटा इस दर्द से नहीं गुजरेगा तो मर्द कैसे बनेगा ?

लाला – मतलब ?

माँ – बेटा जोरदार चुदाई के लिए गोटियों में भी दर्द झेलने का दम होना चाहिए वरना मर्द धके नहीं लगा पाता।

लाला – ओह अच्छा !!

उसके बाद मम्मी जोर जोर से हर अलग तरह से मेरी गोटिया चुस्ती रही और उन्हें लाल कर दी। दर्द के मरे मेरी दोनों टंगे कपङे लगी। मम्मी ने करीब 10 मिंट तक मेरी गोटिया चूसी और साथ ही नीचे अपनी गन्दी चुत में ऊँगली डालती रही।

मम्मी ने गोटिया चूसने के बाद मेरे लिंग ऊपर जोर से थूका और कड़ी होकर मेरे बगल में एक टांग राखी और मेरे लिंग को अपनी चुत में घुसाने लगी।

लाला – मम्मी !! मम्मी !! कंडोम नहीं लगाना क्या ??

मम्मी – अरे चल पागल !! तुझे इतना डर है क्या की तेरा जल्दी निकल जायेगा !!

लाला – अगर निकल गया तो ?

मम्मी – कुछ नहीं होगा इस उम्र में तो लड़के दिन में घंटो तक मुठी मरते है !!

अब उसके बाद मम्मी ने मेरा लिंग अपनी योनी के होठो के बीच घुसाया और मुझे चोदने लगी। वो उछाल उछाल कर मेरे लिंग लिंग को छोड़ने लगी और मुझे होठो पर चूमने लगी।

मेरे लिंग का टोपा ऊपर बाहर निकल गया था और ऊपरी खाल दर्द कर रही थी मैंने मम्मी को कहा भी पर जानते हो उन्होंने क्या जवाब दिया “दर्द सहेगा तभी मर्द की तरह चोद पाएगा!!”

झोपडी में प्रेस वाली के साथ चुदाई भाग 2

ये बात उनकर मैं चुप्चाल बैठा रहा और वो मेरे लिंग को चोदे जा रही थी। चुत का पानी और मिले मेरे पुरे लिंग पर थी। मुझे पूरा दर्द और आनंद मिल रहा था। मैंने पहली बार किसी की चुत में अपना लिंग घुसाया था।

मम्मी की चुत अंदर से गर्म, लाल और रस से भरी थी। मेरा टोपा बार बार अंदर की चुत में रगड़ खा खा कर लाल हो गया और मम्मी मेरी आँखों में देख कभी मुझे चूमती तो कभी मेरी जुबान चुस्ती।

धीरे धीरे हम दोनों को मजा आने लगा और मम्मी चुत के आनंद में इतनी खो गई की जोर जोर से कूद कर मेरे लिंग को चोदने लगी।

(माँ की अन्तर्वासना देख लाला के अंदर भी जोश भर गया वो अचानक अपनी कमर हिलाते हुए खड़ा हुआ और माँ को एक पैर पर खड़ा होकर छोड़ने लगा और एक हाथ से उनकी छाती दबाने लगा। पर माँ की भरी जांघ और सेक्सी भरी शरीर वो संभाल नहीं पाया तो उसने माँ को घोड़ी बना कर चोदना शुरू कर दिया।)

मम्मी अचानक से डर गई और तेज सासे लेते हुए चिलाने लगी। मैं जोर जोर से उनकी चुत चोदने लगा और पीछे धके लगा कर उनकी बहरी गांड और पूरा शरीर हिलाने लगा। उनके भारी लटकते थन मेरे धको से झूलने लगे। मैं जोर जोर से छोड़ने लगा और मैंने उनके बाल पकड़ लिए।

बाल पकड़ कर मैं जोर जोर से उन्हें खीचता हुआ चुदाई करने में लगा रहा। दोस्तों काफी आनंद आ रहा था मुझे। मम्मी की चुत धीरे धीरे मुलायम होने लगी और उनकी सासे तेज होने लगी।

मैं समज गया की उनकी मलाई निकलने वाली है तो मैं जल्दी से चूका और चुत चाटने में लगा रहा। मैंने दोनों गांड के नरम पहाड़ पकड़े और फैला कर चुत गांड का छेद चांटे लगा।

मम्मी – अहह अहह अहह अहह !! अहह अहह और और !!!

लाला – मममम अहह हम्म्म अह्ह्ह ाःह !!!!

मम्मी – आ हाँ बीटा इसी तरह चाटो अहह अहह चाटो !!!

(लाला की माँ ने अपनी योनी से मलाई छोड़ दिया और लाला पागलो की तरह साला चुत का माल चाटने लगा और स्वाद लेने लगा।)

चुत चाट मैंने सारी मलाई खा ली और मम्मी को पलट कर लेता दिया और एक तंग उठा और अपना लिंग घुसा दिया। मैं उनका पैर चाटते हुए अपनी कमर मशीन की तरह चलाने लगा और पूरा आनंद लेने लगा। मम्मी के दोनों थन जोर जोर से ऊपर नीचे हिल रहे थे और मम्मी हैरानी से मुझे देखे जा रही थी।

गांव की देसी भाभी को चूस चूस कर चोदा भाग-1

मैं मजा से उनकी टांग चूमता हुआ चुत चोदने में लगा रहा। चुत की खुदाई करता करता मेरा लिंग फौलाद का बन गया था।

मेरे लंड की खाल पूरी खींच गई थी अब मुझे चुदाई करने में कोई दर्द नहीं हो रहा था। मैं पागलो की तरह मम्मी को पेलता रहा और आनंद लेता रहा। साथ ही साथ गोटिया भी लाल हो चुकी थी।

चुदाई करते हुए गोटिया मम्मी की गीली योनी पर झापड़ लगाती रही और मैं हफ्ता हुआ अपने कूल्हे हिलता रहा।

चुदाई करते हुए मैं आगे झुका और मम्मी की सेक्सी गर्दन को चूमने लगा और उनकी दोनों चूचिया दबाने लगा।

ऐसा करते हुए काफी मजा आ रहा था। तभी मम्मी ने मेरा सर पकड़ा और मुझे होठो पर चूमने लगी। वो अपने बड़े बड़े रसीले होठो से मेरी जुबान धीरे से चुस्ती हुए सेक्सी आवाजे निकलती रही और मैं जोर जांघो के बीच चुदाई करता रहा।

मम्मी की गांड, भोसड़ा और जाँघे सब लाल हो गई थी।

अब बस मुझे से और नहीं रुका जा रहा था मेरी गोटिया पानी छोड़ने के लिए पागल हो रही थी। चुदाई से पूरा बिस्तर हिल रहा था, कमरे में चुत लंड के पानी की बास आ रही थी और कमरे में चुदाई की आवाज गूंज रही थी। उस वक्त हमे ये याद नहीं रहा की पिता जी नीचे ही है।

ट्रेन में सेक्सी चुदाई !!

मैं जोर से मम्मी की गर्दन पकड़ा और अपने मुँह के पास कीच कर उन्हें चूमने लगा और अपने लिंग का पानी अंदर छोड़ दिया।

मम्मी को जैसे ही अपनी चुत में गर्म गर्म लगा उन्होंने मुझे धका मारा और मैं पीछे गिर गया और वो मुझे गुस्से से देखने लगी। पर उस वक्त काफी देर हो गई थी मेरा माल मम्मी के अंदर जा चूका था और मैं अनंग जमीं पर बैठा भी अपने लंड से पानी छोड़ने जा रहा था।


बस दोस्तों यही है मेरी देसी मम्मी की चुदाई कहानी। उम्मीद है आपको अच्छी लगी होगी। मुझे आप मेल कर सकते है सेक्सी कहानी पढ़ने के लिए।

[email protected]

आपको कहानी कैसी लगी?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
1

Similar Posts

31 Comments

  1. इसे कहते है माँ बेटे जा असली प्यार।

    1. मैडम मेरा भी प्यार देख लो काफी बड़ा है। लेना चाहती हो तो मेल भेजो अभी [email protected]

    2. नहीं मैं किसी से मिलने नहीं वाली अगर सिर्फ फ़ोन पर सेक्स करना चाहते हो तो ठीक है।

      1. मेडमआप, , सेक्सी,बातचीत हो,सकती,किया, फोन नंबर मिलेगा मे,आलोक वर्मा मेरा,नंबर,9654605739

  2. मेरी उम्र भी 20 साल है और मैं दिन में 7 से 10 बार मुठ मरता हूँ। लाला की मम्मी को सब पता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *