| | |

घर पर सेक्सी रंडी बुला कर चोदी

मैंने सेक्सी और बड़ी गांड वाली रंडी घर बुला कर चोदी और उसे खूब चूसा। मेरा नाम जतिन है और आज मैं आपके शामे लेकर आया हूँ अपनी देसी सेक्स कहानी जिसे पढ़ने के बाद आप सभी के लिंग से गंदगी साफ हो जाएगी।

मैं 21 साल की उम्र में काफी सेक्सी फील करता था। मेरा दिन रात लिंग खड़ा रहता था। बार बार मुठ मारने पर भी वो शांत नहीं होता था। तो ये बाद मैंने अपने एक दोस्तों रवि को बताई। वो मुझ से बड़ा था इसलिए उसे जिंदगी का ज्यादा अनुभव था। उसने मुझे बताया की भाई अब इस उम्र में आकर सब मर्दो को शरीर सेक्स मांगता है। अब तेरी जबरदस्त चुदाई करने की उम्र है इसलिए किसी रंडी को बुला और काम खत्म कर। 

मैंने कहा ” भाई मैंने ऐसा कभी किया नहीं पर मैं मुठ रोज मारता हूँ “

रवि ” भाई तू इतना जवान है और तेरा खड़ा लंड है इसका इस्तेमाल कर और किसी सेक्सी रंडी की चुत शांत कर !! “

तो मैंने उनकी बात मानी और अपने घर पर सेक्सी रंडी बुला कर चोदी।   

मैंने किसी तरह अपने दोस्तों से बात कर के एक रंडी को बुलवाया। वो 5 घंटो के 3 हजार ले रही थी तो मैंने जो पैसे जमा किए थे वही उसे दे दिए। 

उस दिन जब घर पर कोई नहीं था मैंने उसे पीछे के रस्ते अंदर घुसा लिए। मैं एकलौता बेटा था इसलिए घर पर कोई नहीं था और मेरे माँ बाप किसी करीबी की शादी पर गए थे पर मैंने लड़ झगड़ कर वहा जाने से मना कर दिया। 

उस रंडी ने मेरे घर आकर मुझे फ़ोन किया और मैंने उसे इशारा कर के घर के पीछे वाले दरवाले पर बुलाया। 

मैंने जब दरवाजा खोला तो देखा उसने सेक्सी काली जीन्स और टाइट टॉप पहना था जिस वजह से मुझे उसका पूरा फिगर साफ दिख रहा था। 

मैं उसे देख कुश होने लगा की चलो माल तो सही मिला है। 

इतने में वो मेरा मुस्कुराता चेहरा देख कर बोली ” अबे क्या टाइम खराब कर रहा है जल्दी कर न !! “

मैं उसे अंदर लाया और अंदर आते ही उसने अपना फ़ोन निकाला और उसमे स्टॉप वाच चालू कर के बोली तेरा वक्त शुरू हो गया है। 5 घंटे है जो करना है कर। 

उसका सेक्सी शरीर और रसीले होठो पर कड़वी बोली सुनकर मेरा लिंग खड़ा हो गया। 

मैं उसका हाथ पकड़ा और उसे अपने कमरे में ले गया। कमरे में लेजाकर पहले तो मैंने अपने बिस्तर पर पुरानी चादर बिछाई और फिर उसे वह बैठने को कहा। 

वो जैसे ही बैठी मैं दिए से उसके करीब गया और उसके कंधे पकड़ कर उसे होठो पर चूमने लगा। 

तभी उसने मुझे धका दिया और कहा ” अबे अबे क्या कर रहा है मैं तेरी कोई हीरोइन नहीं हूँ साले !! चूमा चाटी छोड़ कर जो करवाना है करवा और हाँ मैं मुँह में भी नहीं लुंगी समझा !!! “

उसका ये जवाब सुनकर मेरा लंड ढीला हो गया। पर कोई बात नहीं मैं उसे लेटाया और उसका टॉप उतार कर उसकी सेक्सी और हॉट नरम छाती को चूसने दबाने लगा। 

वो बेजान होकर पड़ी रही और मुझे स्तनों की चुसाई करते हुए देखती रही। स्तन दबाते चूसते हुए मैंने उसकी टाइट जीन्स खोली और उसमे हाथ डाल कर उसकी चुत में ऊँगली करने लगा। 

धीरे धीरे उसकी चुत गर्म हो कर गीली हो गई और वो गहरी सासे लेने लगी। 

सेक्सी रंडी धीरे धीरे मेरे साथ कामुक रोमांस का मजा उठाने लगी और मेरे साथ हस खेल कर बाते करने लगी। 

जब वो कामुक हो गई तो उसने मेरे पजमे पर हाथ फैरना शुरू कर दिया। थोड़ी देर बाद मैंने अपने पजामे का नाडा खोल दिया और उसने अपने आप ही उसके अंदर हाथ डाल कर मेरा लीग पकड़ा लिया। 

उसके सुंदर कोमल हाथ और लब्मे रंगीन नाख़ून मेरे लिंग को हल्का हल्का चुभने लगे। मैं उसके गीले होठो के करीब आया और उसकी आँखों में देखें लगा। 

हम दोनों ही धीरे धीरे सेक्सी आनंद ले रहे थे तभी उस रंडी ने मेरे हाथो पर चूमना शुरू कर दिया। 

चूमा चाटी करते हुए मैं उसकी चुत में ऊँगली करता रहा और वो मेरा लंड हिलाती रही। 

जब उसकी चुत पूरी लस लसी हो गई और मेरे टोपे से लार टपकने लगी तो मैं उठा और उसकी जीन्स पूरी उतार कर उसकी चुत में लंग घुसाने लगा। 

दोस्तों मैंने तो कंडोम पहना था इसलिए मैं पूरी चुदाई के लिए तैयार था। मैंने अपने लंड को नीचे से कस कर दबाया तो पूरा लंड पथर की तरह सख्त हो गया। 

उसके बाद रंडी ने मुझे देखते हुए अपनी चुत हाथ से फैलाई और मैंने अपना लंड अंदर डाल दिया। 

इस तरह हमने सेक्सी चुदाई शुरू कर दी।  रंडी का आधा शरीर यानि गांड बिस्तर से बाहर लटक रही थी और मैं उसके पैर अपने कंधे पर रख कर उसकी गांड हवा में उठा रखा था। 

इस तरह मैं खड़े खड़े अपनी कमर जोर से रंडी की गांड पर मार रहा था और अपने लंड को चुत से रगड़ रहा था। 

वो लड़की अपने स्तनों को पकड़ कर सहारा देने लगी ताकि मेरे धको से वो ज्यादा न उछले। 

कुछ देर चुदाई के बाद मैं उसे वापस पूरा बिस्तर पर लेटाया और आगे बढ़कर उसकी आँखों में आँखे डाल कर चुदाई करने लगा। मैं अपने हाथो से उनका कोमल शरीर और थन को नोच रहा था और अपनी सेक्स की पूरी प्यास बुझा रहा था। 

बस इसी तरह चोदते चोदते उस रंडी ने अपनी कच्छी उठाई और मेरे मुँह पर रख कर अपनी चूत की खुशबु सुंघाने लगी। उसकी कच्छी अपने मुँह पर रगड़वाने के बाद मैं तो बस पागल ही हो गया। 

मेरे पुरे लंड में तेजी से खून दौड़ने लगा और बस इसी के साथ मेरा लंड सफ़ेद पानी कंडोम में छोड़ दिया। 

मैं कुछ देर अपना लंड उसकी सेक्सी चुत के घुसा कर रखा और फिर निकाला। 

चुदाई करते करते बस 2 घंटे ही हुए थे और बाकि का वक्त मैंने उसके शरीर को और होठो को चूमते हुए निकाल दिया। 

मैं उसके स्तनों में अपना मुँह घुसाया और हमारे ऊपर कंबल डाल कर सो गया। 

उसकी नरम सेक्सी छाती को मैं कंबल के अंदर ही चूसता रहा और बार बार उसके लाल होठो को भी। 

तो दोस्तों ये थी मेरी Sex Story in Hindi घर पर सेक्सी रंडी बुला कर चोदी।  

आपको कहानी कैसी लगी?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0

Similar Posts