| | | |

गांव की देसी भाभी को चूस चूस कर चोदा भाग-1

भाभी की मैंने एक टांग उठाई और उन्हें दिवार से सटा कर चूमने लगा। भाभी को मेरा अंग्रेजी तरीका काफी पसंद आया। मेरा नाम गौरव है और आज मैं आप सभी को अपनी antarvasna kahani सुनाने जा रहा हूँ। 

मैं दिल्ली से राजिस्थान अपनी नानी के घर गया हुआ था जहा एक सेक्सी भाभी रहती थी। मैं वहा 2 हफ्तों के लिए गया था। 

मेरी उम्र 22 साल है और ये मेरी गांव की देसी भाभी को चूस चूस कर चोदा कहानी है। 

भाभी पूरी देसी थी और रजिस्थानी कपडे पहनती थी। घागरा चोली में मुझे उनकी सेक्सी कमर और टाइट ब्लाउज में थन देखते तो मैं उनसे आकर्षित हो जाता और उन्हें ही देखता रहता। 

ऊपर से भाभी भी मुझे प्यार से देखती। मैं उन्हें जनता भी नहीं था पर फिर भी हम दोनों एक दूसरे को ऐसे देखते जैसे कई सालो से जानते हो। 

भाभी मुझे हसकर देखती तो मैं भी हस पड़ता। इसी तरह चलता रहा और एक हफ्ता निकल गया। 

धीरे धीरे मुझे लगने लगा की भाभी को पटाया जा सकता है। मैंने हिमत करके भाभी से बात करने की कोशिश की। 

भाभी पास के ही माकन में रहती थी। मैं घर वालो से छुप कर उनके घर चला गया और भाभी से मिला। 

भाभी मुझे देख हेरा हो गई की मैं अचानक यहाँ कैसे। 

लंड हिला हिला कर थक गए? नीचे क्लिक करे !!

Ad

भाभी – जी आपको कोई काम ?

मैंने कहा – वो मैं यहाँ कुछ दिनों के लिए यहाँ था रहने इसलिए सोचा थोड़ा यहाँ के बारे में जान लू क्यों की घर पर तो सब अपने में लगे है। 

भाभी ने अपने होठो को दादो के बीच दबाया और मेरा हाथ पकड़ कर अंदर ले गई।

अंदर ले जाकर भाभी ने मुझ से पूछा की क्या देखना चाहते हो। 

मैंने कहा – यहाँ के खाने के बारे में क्या खयाल है ? भाभी रसोई में गई और मेरे लिए दो अलग अलग खाने की कुछ चीज़ लेकर आई  जिसका उन्होंने मुझे नाम बताया जो मुझे अब याद नहीं है। 

दोनों कटोरियों में कुछ था जो खाने में काफी अच्छा था। मुझे हिला कर भाभी मेरा हाथ पकड़ ली और मेरी आँखों में देखने लगी। 

मैंने मौका देखा और भाभी के होठो के सामने अपने होठो को कर दिया। बस भाभी ने मुझे चूमना शुरू कर दिया। 

भाभी मुझ से हटी कटी थी और उनके थनो का तो साइज पूछो मत। भाभी पूरी देसी थी उन्हें इंग्लिश का एक शब्द नहीं पता था। 

भाभी मेरी जुबान को चूसने लगी और देखते ही देखते मेरा पूरा लंड खड़ा हो गया और वो उसे मेरी जीन्स के ऊपर से ही सहलाने लगी। 

अच्छी गर्म धुप में मैं भाभी के गर्म शरीर को सेहला रहा था और उनके थन ब्लाउज के ऊपर से ही दबाता जा रहा था। 

तभी भाभी को तेज सेक्स चढ़ा और उन्होंने अपना घागरा उठाया और कच्छी नीचे कर के मुझे चुदाई के लिए कहा। 

मैं भाभी की एक जांघ उठाया और दिवार से भाभी को चिपका कर उनके होठो को चूमने लगा और अपने लंड को उनकी गीली चुत के ऊपर रगड़ने लगा। 

भाभी गर्म और गहरी सासे ले रही थी और मुझे काफी आनंद आ रहा था।  

सब कुछ ठीक था तभी भाभी ने अपने ब्लाउज को खोला शुरू किया और दोनों थन नीचे लटक गए। 

तो दोस्तों ये थी मेरी कहानी का पहला भाग दूसरा पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे।

गांव की देसी भाभी को चूस चूस कर चोदा भाग-2      

आपको कहानी कैसी लगी?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0

Similar Posts