Baap Beti Sex Story | Family Sex Story

Lockdown Sex Kahani: BP की गोली खाकर बेटी की जबरदस्त चुदाई !!  🤬🥴💊

बिहार के रहने वाले बाला काफी हरामी इंसान है। उन्होंने अपनी कहानी में बताया की कैसे उनकी बेटी छुप छुप कर पड़ोस के लड़के के साथ अश्लील काम किया करती थी। ये सब देख बाला से रहा नहीं गया और उन्होंने खुद अपनी छोटी बेटी की अन्तर्वासना मिटानी की ठानी। इस कहानी से हमे ये सीखने को मिलता है की कभी भी अपने पडोसी से आशिकी न करो वरना अच्छा नहीं होगा।


छोटी बेटी की अन्तर्वासना कहानी !! 🍌🍌🍌

मेरा नाम बाला है और मैं बिहार का रहने वाला हूँ। मेरी दो बेटिया है जो की 28 और 22 साल की है। बड़ी वाली बेटी का शादी हो चूका है और छोटी वाली अभी अपना कॉलेज कर रही है। दोस्तों इस बाप बेटी की अन्तर्वासना कहानी को पढ़कर आप नीचे कमेंट करके जरूर बताना की आपका पानी निकला की नहीं। लॉकडाउन में बेटी की चुदाई कहानी पढ़कर आपको आनंद मिलेगा।

मेरी कहानी तब शुरू हुई जब मेरी बेटी छुप छुप कर हमारे पडोसी के लड़के से गन्दी बाते करती है। वो हर रात उस लड़के को छत पर बुलाती और उसके साथ चमा चाटी करने लगती। ये सब जानते हुए मैंने उसे काफी डाटा पर वो नहीं मानी। दूसरी तरफ मैं उस लड़के की भी कुछ नहीं बोल सकता था क्यों की वो हमारे यहाँ के गुंडे का बेटा था।

इसी बीच मुझे समज नहीं आया की मैं क्या करू। ऊपर से मेरी बीवी भी मुझे बुरा भला बोलने लगी। मेरी बीवी का कहना था की मैं डरपोक हूँ जो अपने पडोसी से कुछ नहीं बोल पाया। देखते ही देखते मेरी तबियत भी खराब होने लगी। लॉकडाउन में पेसो की कमी और बेटी की आशिकी से मेरा BP भी बढ़ने लगा।

मैंने जब बीवी से BP की गोली मांगी तो उसने कहा “पता नहीं कहा है एक काम करो कुमकुम को भेज दो वो रन्दु से लेलेगी।”

(इस वक्त तक बाला का BP आसमान छू रहा था। वो अपनी बेटी को ढूंढा और उसे दवा लेने के लिए भेसज दिया। पर उसके बाद कुछ ऐसा हुआ की उसका BP दवा से भी कम नहीं हुआ।)

दो परिवार का प्यार भाग-1

रंदु हमारे यहाँ का की एक लड़का है जो दवा की दुकान चलाता था। मैं अपनी छोटी बेटी कुमकुम को पुरे घर में ढूंढा पर वो नहीं मिली। उसके बाद मैं समज गया की वो ऊपर चूमा चाटी कर रही होगी।

मैं ऊपर गया तो देखा वो वहा अकेली थी। मैंने उसके दवा लेने भेजा और वो चली गई। उसके बाद जब वो वापस आई तो मुझे दवा देकर वापस ऊपर चली गई। मैंने अपनी BP की गोली खाई और खाना खाने के बाद वापस ऊपर गया ये देखने की वो कर रही थी है।

ऊपर गया तो जो मैंने सोचा वो सच था। उस लड़के ने मेरी बेटी की सलवार खोल उसे आधा नंगा किया हुआ था और उसकी एक टांग उठा कर उसे चूमता हुआ चोद रहा था

मेरी बेटी पुरे मजे से अपने चूतड़ों को आगे पीछे हिला कर उसे लंड को चोद रही थी और पूरा आनंद भी ले रही थी।

लड़का – अंकल अंकल वो वो कुमकुम नई ही मेरा लिंग पहले चूसा था !! 😶😶

बेटी – पापा वो !! पापा…… 😣😣

बाला – बहन चोद तुझे मेरी ही बेटी चोदने को मिली थी !!! 🤬🤬

लड़का – वो अंकल हम प्यार करते है !!!

बेटी – हाँ पापा हम एक दूसरे को प्यार करते है !! आपको कितनी बार बोला है !! 😟😟

(अपनी छोटी लड़की की चुत की चुदाई होता देख बाला गुस्से से भर गया और उसने पास पड़ा डंडा उठा लिया। ये देख लड़का डर के मरे वहा से अपनी छत पर भाग गया।)

मम्मी और भइया की चुदाई भाग 1

बेटी की जबरदस्त चुदाई कर रस निकाला !! 🌊🌊🌊🍑

मुझे देख वो लड़का तो भाग गया पर मेरी बेटी वही नंगी खड़ी रही। उसकी चुत से ऱस निकल रहा था और मेरा दिमाग उसे देख खराब हो रहा था। पहली बार मैंने उसे चुदाई की नजर से देखा। जवान और मोटी छाती और टाइट योनी देख मेरा चुदाई का मन करने लगा।

मैंने उसका हाथ पकड़ा और छत के कोने में लेजा कर उसकी टांग उठाई और अपना लिंग निकाल कर चुत पर रगड़ने लगा। काफी आनंद आ रहा था उसी सेक्सी चुत पर लंड का सूपड़ा रगड़ने में।

बेटी – अहह अहह !! पापा !! अहह !! मम्मी देख लेगी !!

बाला – बेटा देख लिया तो क्या हुआ उसकी भी चुदाई कर डालूगा।

बेटी – अहह !! आपका तो बड़ा बड़ा सा है काफी। 😮😮

तो दोस्तों इस तरह मैंने अपनी बेटी की चुदाई शुरू की। पहले तो मैंने जोर जोर से उसकी चुत को रगड़ा और उसके बाद उसके बूबो को पकड़ कर चूसने लगा। बेटी ने कामुक होकर मेरा हथोड़ा पकड़ा और अपनी चुत में घुसा कर उसे भोसड़ा बनाने लगी।

(बाला ने अपनी बेटी की एक टांग उठा राखी थी और उसकी चुत में अपना लिंग घुसाए जा रहा था। मुमक़ुम को पूरा आनंद आ रहा था। इसके के साथ वो ये भी समज गई की जिस लड़के से वो प्यार करती थी वो प्यार नहीं वो हवस थी।)

चाची और पापा की कुश्ती ! भाग-1

इसी दौरान मुझे वो सारी परिवारक चुदाई कहानियाँ याद आ गई जो मैंने आज तक पढ़ी थी। उसके बाद मैंने भी ये सोचा की बेटी की चुदाई के बाद मैं अपनी बीवी की चुदाई करुगा और एक मस्तराम कहानी इस वेबसाइट पर भेजुंगा। खेर मैं जोर जोर से अपनी बेटी की चुत को चोदता हुआ उसको भोसड़ा बनाने लगा। बेरी मेरी छाती पर चूमती रही और मैं उसकी नरम छाती को नोचता हुआ चूचिया टाइट करता रहा। मैंने उसकी पतली कमर पकड़ी हुई थी और उसके मोटे चूतड़ों को जोर जोर से अपने लंड पर मार रहा था। देखते ही देखते उसकी योनी से पछ पछ पछ पछ पछ की अश्लील आवाजे आने लगी।

थोड़ी देर बाद मैंने मुमक़ुम को हवा में उठाया और उसके भोसड़े को तेजी से चोदने लगा। चुत लंड के मिलन की गन्दी आवाजे काफी तेज थी। बेटी को होठ नहीं था और उसका भोसड़ा रोता हुआ काफी पानी निकाल रहा था। उसके रस से मेरी दोनों टांगे गीली हो गई।

बेटी – अहह अहह अहह ओह्ह उठ !! अह्ह्ह अहह !

बाला – अहह ममम ममम अहह !!

चुत लंड – फट फट फट फट फट फट फट फट फट फट फट फट फट फट फट फट फ !!!! 💦💦💦💦

बेटी – ओह fuck !!!! मुझे चोदो !!! चोदो !! 😆😆😆

बाला – अहह अहह !! तेरा आज चुदाई का बुखार उतार कर ही रहुगा !!! 🥵😡😡😡

(बेटी को हवा में चोदते हुए बाला की टांगे कापने लगी। वो तक गया और नंगी जमीं पर लेट कर बेटी को लंड पर उछालने लगा।)

देसी पापा !!

जब मैं तक गया तोह मैंने बेटी को लंड पर उछालना शुरू किया। मैं जमीं पर लेता और बेटी का सूट उतार दिया। इस तरह मेरी बेटी नंगी होकर मेरे लंड पर कूदती रही। मैं नीचे लेटा उसकी ब्रा में छुपी उछलती छाती का नजारा देख अपने अंडे पानी से भरने लगा। बेटी को चुत चोद चोद कर लंड का सूपड़ा सूज गया था और गोटिया लाल पड़ी थी।

Baap Beti Ki antarvasna kahani
कुमकुम कुछ इस प्रकार उछाल रही थी !!

बेटी की गीली मुलायम चुत को चोद कर मुझे काफी आनंद मिल रहा था।

उसके बड़े बड़े दूध सीधा मुँह के सामने उछाले जा रहे थे और मुझे से रहा न स्का। मैंने बेटी की बनयान उतारी और उसके नरम नरम दूध पकड़ कर सहारा देने लगा। देखते ही देखते उसकी सख्त चूचिया लाल पढ़ने लगी और मैं समज गया की अब चुसाई का सही वक्त आ गया है। मैंने अपनी गर्दन आगे बड़ाई और दूसरी तरफ बेटी की अपने दूध।

मैंने उसके काले निप्लो को अपने होठो में लिए और बरी बरी से चूसता रहा। दूसरी तरफ बेटी अपनी योनी से मेरा लंड चुदती रही। इस तरह एक मैंने अपनी बेटी की चुत का पानी बाहर निकाला। उसकी चुत से मलाई निकली और मेरा पूरा लिंग पानी पानी हो गया।

बेटी – निकल गया पापा निकल गया !! अहह अहह उह्ह्ह !! अहह।

बाला – कूदती रह अहह !! और कूद !! अहह !! अहह !! अहह !!

बेटी – अहह और नहीं कूदा जा रा पापा !! अहह !! अहह

(कुमकुम अपने पिता के लिंग पर उछाल उछाल कर थक गई थी। उसी वक्त उसके पिता ने कमान संभाली और अपनी दर्द होती कमर को नजरअंदाज कर तेजी से चुदाई करने लगे।)

सौतेले बाप के साथ चुदाई भाग 1

मैंने बेटी को कमर पकड़ी और उसे अपने ऊपर लेता दिया। उसकी नरम छाती मेरे सख्त छाती से चिपक गई और हम दोनों होठो को चूमने लगे। बेटी की योनी तक कर चूर हो गई थी। मैंने अपने हाथो से उसके चूतड़ों को जकड़ा और जोर जोर से अपनी कमर हिलाने लगा। तभी तेज चुदाई की आवाजे गूंजने लगी और बेटी के चूतड़ पानी के बड़े बड़े गुबारों की तरह हिलने लगे।

मेरी कमर में दर्द था उसके बावजूद मैंने चुदाई की। देखते ही देखते मेरे लंड का शुक्र निकलने ही वाला था। तभी बेटी ने अपना एक हाथ पीछे किया और मेरे अंडो को दबाना शुरू कर दिया। उसी पल मेरे अंदर का पानी उसके भोसड़े की गहराइयो में चला गया।

बस उसके बाद मुझे मेरे शरीर में होते दर्द का एहसास हुआ। तभी मेरी बीवी ऊपर छत पर आई और उसे बाप और बेटी को इस हालत में देख लिया। कुमकुम हड़बड़ाहट में उठी और अपने कपड़े पहन कर नीचे भाग गई। मेरी बीवी का मुँह शर्म और गुस्से से लाल हो गया।

मैंने उठने की कोशिश की पर कमर दर्द और तेज BP के कारण शरीर ने साथ नहीं दिया। ऊपर से लंड का पानी निकला तो दिमाग पर मनो नशा सा हो गया।

पर मेरी बीवी ने उसके बाद मुझे पास पड़े डंडे से पीटना शुरू कर दिया। मैं नंगा जमीं पर पड़ा रहा और वो मुझे मरती रही।

मेरा लंड जंगे और गोटिया सब बेटी की चुत के माल से सना हुआ था।


तो दोस्तों ये थी मेरी हॉट हिंदी कहानी अगर आपको भी पसंद आई और लंड का पानी निकला तो नीचे कमेंट में जरूर बताए।

[email protected]

आपको कहानी कैसी लगी?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0

Similar Posts

10 Comments

  1. Kafi achi kahani ti. Bala ji mera toh pani nikl gaya. bala ji mene apko mail bheja hai jb ap kabhi dusi beti ki chudai kahani likhe toh mujhe jarur btana.

  2. कहानी में झूठ लिखा गया है। कुमकुम के पिता ने दवा नहीं चुदाई करने वाली गोली खाई है।

  3. मैं धंदा करने वाली लड़की हूँ। उम्र 20 साल छाती बड़ी है और गांड नार्मल है। किसी को मेरी छाती चुसनी है तो मेल करे। एक 1 घंटा का 6000 है। जो पहले आएगा सिर्फ उसके साथ। जो पटना से है सिर्फ वही बात करे।

    [email protected]

      1. अबे रंडी समजा है क्या? चुत गांड चोदनी है तो अपनी माँ की जाकर चोद साले। मैं सिर्फ चूचिया चुस्वाती हूँ। चूसना है तो बोलो। और मेल पर बात करते यहाँ नहीं।

      1. Rajendr ji teej singh ne phle mail bhej diya hai. or main delhi nahee aa skti. ab mujhe koi mail mt bhejna.

  4. I don’t understand Hindi but read every single line of it by translating it into my language. The way the writer fucked with his friend’s mother was sexy as hell.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *