| | |

लॉकडाउन में चुदाई की कहानी भाग 4

अपनी पड़ोसन को चोदते आधा एक घंटा हो गया। सेक्सी पड़ोसन के बाल बिखर गए और उसका शरीर तपने लगा। उसकी हालत मैंने चुदकड़ रंडी जैसी बना डाली और उसका दूध भी खूब निकाला। दोस्तों ये मेरी लॉकडाउन में चुदाई की कहानी का चौथा भाग है अगर अपने पहले के भाग नहीं पढ़े तो नीचे क्लिक कर के पढ़े।

लॉक डाउन में चुदाई की कहानी भाग 1

लॉकडाउन में चुदाई की कहानी भाग 2

लॉकडाउन में चुदाई की कहानी भाग 3

अब बात करते है मेरी चुदाई की सेक्सी कहानी की। दोस्तों मैंने अपनी बीवी को धोका देकर अपनी पड़ोसन के साथ खूब मजे किए।

आखिर में मुझे अपनी पड़ोसन के साथ सेक्स करने का मौका मिलगया। तो पिछली कहानी में मैं अपनी पड़ोसन को खड़े खड़े घोड़ी बना कर चोद रहा था। उसकी सासे फूली हुई थी और छाती का दूध मैंने निचोड़ रखा था। चुत से गर्म भड़ास निकल रही थी और मेरा लंड लाल पड़ गया था।

तभी मेरी बीवी छत पर आकर मुझे आवाज लगाने लगी। अब मैं तो वहा था नहीं और वापस जा सकता था। ऊपर से लिंग खड़ा था और माल दार औरत सामने झुकी मेरा लिंग लेने के लिए पागल होये जा रही थी।

मैंने अपनी बीवी की आवाज अनसुनी की और उसे जोर जोर से चोदने पर उत्तर आया। गांड पर पड़े वाले धको की आवाज पुरे घर में गूंज रही थी और चुदाई की सुगंद पुरे घर में फेल गई।

इस तरह मेरी लॉकडाउन में चुदाई की कहानी का अंत होने वाला था। चुदाई करते हुए मैंने ईशा को उठाया और उसे नंगी जमीं पर लेटा कर उसके पैर खोले और उसकी चुत चाटने लगा।

लंड हिला हिला कर थक गए? नीचे क्लिक करे !!

Ad

ईशा – आ उह्ह्ह कितने बेशर्म हो आप !!

अह्ह्ह अह्ह्ह ऊह्ह्ह ुह्ह्हह्ह उफ़ अह्ह्ह्हह !!

वो इसी तरह सेक्सी और कोमल आवाजे निकालती रही और मुझे पूरा मजा आता रहा। उसके बाद जब मेरा लिंग शांत हुआ तो मैं दोबरा उसके थन चूसता हुआ चुदाई करने लगा। सेक्सी ईशा का पूरा बदन पसीने से भर गया और मेरे गोटे चुत पर झापड़ लगा लगा कर लाल हो गए।

इतनी जबरदस्त चुदाई के बाद मेरा तो लिंग ही दर्द करने लगा पर मैं करता भी क्या अन्तर्वासना मुझ में कूट कूट कर भरी थी।

मैं अपनी हॉट पड़ोसन के ऊपर चढ़ा और उसकी चुत में लंग घुसा कर अपनी गांड हिलने लगा।

ईशा को पूरा जोश था वो चाहती थी की मैं उसे बिना रुके छोड़ता रही। उसने अपना हाथ निचे किया और मेरे कंचे खत में दबा लिए और उसे ऊपर नीचे खींच कर मुझ से चुदवाने लगी।

धीरे धीरे मेरे पुरे लिंग में जोरदार दर्द होने लगा और एपीआई निकलने वाला था। तो मैंने ईशा को कहा “ईशा जी !! अहह मेरा मेरा निकलने वाला है मेरी गोटिया छोड़ दो !!”

ईशा – नहीं ऐसे कैसे !!

ईशा ने मेर्ली गोटिया जोर से दबानी शुरू कर डाली और मेरा लिंग वही अपना माल छोड़ दिया।

मैं जोर से चुत में लंड देता हुआ उसकी चुत चोदता रहा और मेरी सफ़ेद मलाई की छीटे पीछे से उड़ने लगी।

उसी दौरान जब ईशा को अपनी चुत में मेरा गर्म माल महसूस हुआ वो भी अपनी चुत से अपनी की तेज धार छोड़ने लगी और चिलाती रही “नहीं मत मत रुकना अभी !!”

उसे खुद करने के लिए मैं अपने झड़े हुए लंड से ही उसे चोदता रहा और चुत से गंदा अपनी निकालता रहा।

अचानक ईशा काफी तेजी से चिलाने लगी और मेरे लिंग पर जोरदार पानी का थपेड़ा पड़ा और मेरा लिंग उछाल कर चुत से बाहर निकल गया और ईशा की चुत पानी की बरसात करने लगी।

मेरा लिंग लटक गया और उसमे दर्द होने लगा। मेरा लिंग सूज कर लाल हो गया और इसका की चुत भी जलन से दर्द करने लगी।

उसके ठन मेरी चुसाई से लाल हो गए। तो दोस्तों उसके बाद मैं उसके नंगे बदन पर लेट कर ईशा को धीरे धीरे चूमता रहा और हम दोनो ऐसे ही नंगी जमीं पर नंगे पड़े रहे।

दो दोस्तों ये थी मेरी देसी चुदाई कहानी की कथा। और मेरी कहानी यही खत्म होते है। उमेद करता हूँ की आपको सभी भागो में मजा आया होगा।

आपको कहानी कैसी लगी?
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0

Similar Posts