| | |

फेसबुक पर मिला गे लड़का तो चोद डाला भाग 1

मैं उस लड़के की गांड पकड़ कर मरने लगा और उसे मजा आने लगा। उसे देख मेरा मुँह खुला रह गया की भला किसी लड़के को लंड लेने में कैसे मजा आ रहा है ? दोस्तों मेरा नाम अविनीश है और मैं लखनऊ, उत्तर प्रदेश का रहने वाला हूँ। मृ उम्र 27 साल है और मेरी ये गे कहानी इस वेबसाइट पर पहली बार प्रकाशित हुई है।

तो दोस्तों 27 साल की उम्र में ही मेरी कोई प्रेमिका नहीं बनी मैं बस लंड हिलाता रह गया। मेरा एक छोटा भाई है और घर में बस माँ बाप जो मेरी शादी करवाना चाहते है।

पर मैं शादी के लिए तैयार नहीं मुझे उस से पहले कम से कम 3 से 4 लड़कियों की गांड मारनी है जो मैं अभी तक नहीं कर पाया।

मैं बस एक मामूली से कॉल सेंटर में काम करता हूँ और बस २० हजार प्रति महीना कमाता हु जो मुझे घर में देने पड़ते है।

देसी भिखारी के साथ चोदा चोदी

जिंदगी ऐसी ही चल रही थी की अचानक एक लड़का मुझे फेसबुक पर मेसज किया और मुझे से दोस्ती के लिए पूछने लगा।

मैंने सकोहा चली एक नया दोस्त बन जाएगा। वो मुझे से करीब 2 हफ्ते बाते किया और साथ घूमने जाने के लिए पूछा।

पर मैंने कहा की मेरे पास पैसे नहीं है तो वो लड़का बोला की मैं तुम्हारे वह लखनऊ आ जाता हूँ तुम मुझे वहा घुमा देना।

मैंने उसकी बात मानी और वो अगले 4 दिन बाद लखनऊ आ गया।

पुराने दोस्त के साथ एक रात

उस लड़के का नाम शुभम था और उसका फेसबुक देख के पता लग रहा था की वो कितने पैसे वाले आदमी की औलाद है।

उसकी उम्र 25 साल थी और वो BSC क्र चूका था।

अब वो लखनऊ आया और मेरे घर के पास में एक होटल लेकर वहा रुक गया और मुझे बुलाने लगा।

मैं उसके होटल गया और पहले तो हम सही से मिले और हमने साथ खाना भी खाया। तब तक मुझे पता नहीं था की ये गांडू गे है। मैं तो उल्टा ये सोच रहा था की चलो किसी पैसे वाले से दोस्ती हो गई अब थोड़ी ऐश हो कर पाउगा।

खाना खाने के बाद वो मुझे बाहर ले गया और बोलै की यहाँ की अच्छी अच्छी जगहए मुझे देखनी है।

मैं उसे Bara Imambara, Chota Imambara, Lucknow Zoo, Rumi Darwaza, Chattar Manzil जैसी झज्ञा खुमाया।

ये सारी जगह घूमने में मुझे करीब 6 दिन लगे और हमदोनो ने खूब मजे किए उस लड़के ने खूब पैसे उड़ाए।

उसके बाद हम वापस होटल चले गए। मैंने घर वालो को बोल दिया था ऑफिस वाले बाहर घूमने ले जा रहे है।

उसके बाद जब हम होटल गए तो उसने मुझे अपना असली रंग दिखाया।

हम दोनों ही तक गए थे तो उसने मुझे अपने रूम में आराम करने को कहा।

गांडू गे शुभम – तुम अयाह रुक जाऊ थोड़ी देर बाद चले जाना !

चाची और पापा की कुश्ती ! भाग-1

अब मैं रुका हमने थोड़ी देर बाते की पर मुझे तभी नींद आ गई और मैं वही सो गया।

जब आंख खुली तो देखा मेरी जीन्स उत्तरी हु थी और गांडू गे शुभम मेरा लंड चाट रहा था।

में हैरान हो गया और मेरी तो गांड ही फट गई। गांडू गे मेरा लंड चूसे जा रहा था और मुझे सपने में दिख रहा था की कोई लड़की मेरा चूस रही है।

उस दिन मैं समज गया कोई कोई चीज फ्री नहीं होती।

तो दोस्तों मेरी antarvasna sex kahani पसंद आई तो दोस्तों के साथ जरूर शेयर करने। ये मेरी फेसबुक पर मिला गे लड़का तो चोद डाला कहानी का पहला भाग है दूसरा भाग पढ़ने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर जाए।

फेसबुक पर मिला गे लड़का तो चोद डाला भाग 2

आपको कहानी कैसी लगी?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *