Bhabhi Sex Story | Desi Sex Story | First Time Sex Story | Hindi Sex Stories | XXX Stories

गांव की देसी भाभी को चूस चूस कर चोदा भाग-2

देसी थन देख मैं हैरान परेशान हो गया और उन्हें अपने दोनों हाथो से पकड़ कर दबाने लगा। दोस्तों ये मेरी Desi Sex Kahani का दूसरा भाग है पहला वाला पड़ने के लिए नीचे क्लिक करे। और अगर आपने मेरी कहानी गांव की देसी भाभी को चूस चूस कर चोदा का पहला भाग पढ़ लिया है तो यहाँ बने रहे क्यों असली मजा तो अब शुरू होगा। 

गांव की देसी भाभी को चूस चूस कर चोदा भाग-1

तो मैं भाभी की एक टांग उठा कर उन्हें दीवार से चिपका रखा था और उनकी चुत के ऊपर अपना लिंग रगड़ रहा था। साथ ही उनके होठो को और पुरे चेहरे को भी चुम रहा था रभी भाभी ने अपना ब्लाउज खोना शुरू कर डाला जिसे देख मेरी सासे रुक गई। 

भाभी ब्लाउज खोला और उनके थन नीचे लटकने लगे। उन्होंने ब्रा तक नहीं पहनी थी जिस वजह से मुझे ब्लाउज के ऊपर से ही उनके खड़े निपल दिख रहे थे। 

भाभी के ठन सावले और चूचिया काली थी जिसे देखने के बाद मेरा लंड जरूरत से ज्यादा सख्त हो गया। 

मैंने भाभी के एक स्तन को अपने मुँह से चूस कर ऊपर उठाया और दूसरा अपने एक हाथ से दबाने लगा। ऐसा करते हुए मैंने भाभी के अंदर अपना लिंग घुसा दिया और अपनी कमर आगे पीछे हिला हिला कर उन्हें चोदने लगा।  

इस तरह मैं भाभी को चूस चूस कर चोदता रहा और भाभी के रसीले शरीर का पूरा लुफ्त उठाने लगा। 

भाभी की गांड भी भरी थी उन्हें एक टांग पर खड़ा करना काफी मुश्किल हो रहा था जिस वजह से हम ज्यादा देर खड़े खड़े चुदाई नहीं कर पाए। पर इसका मतलब ये नहीं की मेरी क्सक्सक्स कहानी यही खत्म हो गई। 

जब भाभी थक गई तो उन्होंने मेरा हाथ पकड़ा और मुझे लेजा कर खाट पर लेता दिया। 

मुझे लेटा कर वो मेरे ऊपर बैठी और ऐसे हिलने लगी जैसे घोड़े की सवारी कर रही हो।

अपने मुँह के सामने उछलते मोटे नरम दूध मेरी हवस और बढ़ा रहे थे। मैंने अपने दोनों हाथो से उन्हें पकड़ा और अलग अलग तरह से दबाने लगा तो निपल से दूध की बुँदे निकलने लगी। 

अपनी आँखों के सामने ऐसा होते देखना मुझे आज तक ससीब नहीं हुआ था।  

मैं भाभी को आगे झुकाया और उनके स्तन अपने मुँह के ऊपर कर लिए और दोनों निपल चूसने लगा। इस तरह मैं उनकी गांड पकड़ा और उसे ऊपर नीचे कर भाभी से अपना लंड चुदवाने लगा। 

भाभी के छाती काफी आनंद दे रही थी और  से वो खूबसूरत चेहरा देख मेरा पानी निकलने ही वाला था की तभी। 

भाभी रुक गई और उन्होने अपनी नरम छाती से मेरा मुँह दबोच लिया। 

मेरा लिंग चुत के अंदर कुछ देर रहा और बस अपने आप पर काबू न रख पाने की वजह से मैंने अपनी छोड़ दिया। 

भाभी – अहह गर्म गर्म लग रहा है !!

मैं लगातार चुत के अंदर माल अपनी छोड़ता रहा और बस इसी तरह मेरी चुदाई खत्म हो गई।  

तो दोस्तों ये थी मेरी चुदाई की हॉट कहानी इस तरह भाभी को चोदने के बाद भाभी ने मुझे अपना नंबर दिया और कहा की जब मेरे घर पर कोई नहीं होगा तब मैं तुम्हे फ़ोन करुँगी। 

Similar Posts