Bhabhi Sex Story | Bhai Behan Sex Story | Desi Sex Story | Family Sex Story | Hindi Sex Stories | XXX Stories

खाट पर भाई बहन की सेक्सी चुदाई भाग 1

मेरी बहन अपने चूतड़ उछाल उछाल कर मेरे लंड को चोदने लगी दोस्तों मेरा नाम राकेश लाला है और आज मैं आपको अपनी हॉट सेक्सी बहन की देसी चुदाई कहानी सुनाने जा रहा हूँ।

दोस्तों में बिहार का रहने वाला 23 साल का लड़का हूँ और मेरी बहन 29 साल की शादी शुदा भाभी है। उसका शरीर शादी के बाद से ही भर गया और मैं उसपर लाटू हो गया।

शादी से पहले बहन का बदन खाली था तो न तो मैंने उसे कभी देखा और न ही उसके बारे में ऐसा सोचा पर शादी के बाद उसके पति ने पता नहीं उसे कैसे चूसा और कैसे चोदा की उसकी तो गांड और थन दोनों ही मोठे हो गए।

मैं तो देख के हेरा और ऊपर से मेरा लिंग भी अपना पानी टपकाए।

लॉकडाउन खत्म हुआ नहीं की मेरी माल दर बहन घर आ गई। उनका कोई बच्चा नहीं हुआ था पर फिर भी थन बड़े हो रखे थे।

उनका पति यानि मेरा जीजा उसे घर छोड़ कर चला गया और मेरी दीदी मुझ से आकर मिली।

बहन की चोदी चुत और निकाल दिया मूत भाग-1

वो मुझे देख रही थी और मैं उनकी छाती।

कुछ देर तो दीदी मेरी उनके देखने लगी की मैं उनके कहा देख रहा हूँ। और उन्हें शक भी होने लगा की मैं चुदाई की नजरो से उहे देख रहा हूँ। पर दीदी ने कुछ कहा नहीं वो मुस्कुराई और मुझ से कुछ देर और बाते करने के बाद माँ के साथ कहाँ बनवाने लगी।

अब उसे देख मेरी आंखे लाला हो गई और पजामे से लंड का सुबाड़ा उठने लगा। मुझे समज न आए की मैं अब करू क्या।

हमारा परिवार कुछ ज्यादा पैसे वाला नहीं था हम बस एक मामूली परचून की दुकान चलते थे। पिता जी परचून की दुकान पर बैठे और मैं दुआकन के आगे ही पंचर बनाने का का करता।

मेरी आंखे सड़क पर चलने वाली सेक्सी औरतो के शरीर पर ही रहती और मैं उन्हें चूसने चोदने के सपने देखा करता। पर न तो किस्मत थी और न औकात।

मेरी बहन सबसे ज्यादा पढ़ी लिखी थी हमारे खानदान में। मैं बस दसवीं पास और वो BA पास थी।

अब हुआ क्या घर में जगह कम थी तो मेरी बहन छत पर बने कमरे में सोने लगी और मैं बाहर खुली छत पर खाट बिछा कर सोने लगा।

बहन के साथ अश्लील रात

पर आधी रात तक मेरा लंड खड़ा रहा और मैं चुदाई के बारे में सोचता रहा।

तभी मेरी आंखे मेरी सेक्सी भाभी जैसी बहन को ढूंढ़ने लगी। मैं उठा और कमरे का दरवाजा खोल कर अपनी बहन को देखने लगा।

उसे गर्मी लग रही थी तो उसने अपने ऊपर की रजाई उतार राखी थी।

वो सिर्फ दो दिन के लिए आयी थी लेकिन अपने साथ सोने के लिए सही कपड़ने नहीं लाई इसलिए वो साड़ी में ही सो रही थी।

उसका प्लाऊ उसकी छाती से हटा हुआ था और मुझे उसके दो पहाड़ जैसे दूध दिख रहे थे।

मैं उन्हें देखता हुआ अपने लंड को हिलाने लगा।

चटाई पर चुदाई

बहन धीरे धीरे सासे लेते हुए अपनी छाती बार बार फुला रही थी और उसे देख मेरा भी लंड दर्द कर रहा था।

छाती के साथ साथ कभी मैं उसकी जाँघे देखता तो कभी उसका नरम पेट।

देखते देखते मेरा उसे होठो पर भी चूमने का दिल करने लगा।

मैंने आज तक किसी औरत का शरीर नहीं छुआ था इसलिए मेरा दिल करने लगा की एक बार अपनी बहन की नरम छाती दबा कर थोड़ा आनंद ले लू।

मैं धीरे धीरे आगे बड़ा और पहले देखा की बहन सो रही है या नहीं।

उसके बाद मैं अपने एक हाथ से उनके ब्लाउज की चोटी को पकड़ा और उसे हल्का हल्का दबाने लगा।

जब बहन ने कोई प्रतिक्रिया नहीं की तो मैंने अपने दूसरे हाथ से दूसरी चोटी को पकड़ा और बस आराम आराम से दबाने लगा।

उस दौरान मेरा मुँह खुला का खुला रह गया और मुँह से पानी टपकने लगा।

मैं धीरे धीरे दबाता हुआ इतना आनंद लेने लगा की अपनी सीमाएं ही भूल गया और दीदी का ब्लॉउस खोने लगा। ब्लाउज खोलते हुए मैं उसके कोमल पेट और गर्दन पर अपना हाथ चलाने लगा।

मैंने आधा ब्लाउज खोला और उसके अंदर हाथ डालकर मोटी कोमल चूचिया दबाने लगा। दीदी सोती रही और मैं मजे से उनका शरीर छूने लगा।

तभी अचानक मेरी नजर उनके चेहरे पर गई और मैंने देखा की उनकी एक आंखे थोड़ी सी खुली हुई थी।

मैं थोड़ा डरने लगा की कही दीदी जग तो नहीं रही ?

उसके बाद मैं अपने कदम धीरे धीरे पीछे बढ़ाने लगा और तभी दीदी ने मेरा हाथ पकड़ लिया।

दोस्तों ये मेरी अन्तर्वासना कहानी का पहला भाग है दूर भाग पढ़ने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर जाए।

खाट पर भाई बहन की सेक्सी चुदाई भाग 2

आपको कहानी कैसी लगी?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0

Similar Posts