Desi Sex Story | Hindi Sex Stories | XXX Stories

चुदाई की कहानी 2020; जमादारनी की चुदाई भाग 2

जमादारनी को पता लग गया की मैं उसके शरीर को कैसे देख रह हूँ। ये जानकर जमादारनी मन ही मन काफी खुश हुई और वो मुझे देख मुस्कुराने लगी। ऊपर से मैं भी मुस्कुरा दिया। दोस्तों ये मेरी चुदाई की कहानी 2020 का दूसरा भाग है और ये सब लॉकडाउन के समय हुआ। अगर अपने पहले का भाग नहीं पड़ा तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक कर के पढ़े।

चुदाई की कहानी 2020; जमादारनी की चुदाई भाग 1

तो दोस्तों भी मैंने ऐसा ही किया और इस बार जमादारनी ने अपने थन आधे बाहर निकाल रखे थे। धीरे धीरे भरोसा हो गया की अब मैं चुदाई का पूरा आनंद ले पाउगा।

उस दिन मैंने भी ऊपर खड़ा होकर यहाँ वहा देखा और अपना लिंग निकाल कर उसे देखा दिया।

मेरा तना हुआ लिंग देख जमादारनी शर्मा कर हस पड़ी और नीचे मुँह कर के झाड़ू लगाने लगी।

उस वक्त मैं समज गया की अब तो मैं जमादारनी की चुदाई कर सकता हूँ मैं जल्दी से नीचे गया और जमादारनी को बे वजह पैसे देने लगा ताकि उसे करीब बुला सकू।

वो मेरे पास आई और मेरे लिंग को देखने लगी। तब तक मेरा लिंग बैठा हुआ था। उसी वक्त मैं भी उसके ठन और पुरे शरीर को देखने लगा।

अचानक मेरी बीवी ने मुझे उसे पैसे देते हुए देख लिए और वो चीला कर बोली “अरे आप इसे पैसे क्यों दे रहे है ? अभी तो महीना हुआ भी नहीं !!”

चाची और पापा की कुश्ती ! भाग-1

मैंने कहा – अरे वो इसे जरूरत है न तो अगले महीने के मैं अभी दे रहा हूँ !!

जमादारनी – हाँ दीदी वो बाबा जी तबियत खराब हो न इसलिए !

अब उसके बाद मेरी बीवी चली गई को की उसे सुबह का खाना बनाना था।

उसके बाद जमादारनी ने मुझ से मेरा फ़ोन नंबर लिया और हम दोनों फ़ोन पर गन्दी बाते करने लगे।

उस से बात करके मुझ कुछ खास मजा नहीं आया। अब जमादारनी की सोच जमादारनी वाली ही होगी न। पर मुझे तो उसके साथ भरपूर चुदाई करनी थी इसलिए मैं सब झेल लिया।

कॉल बॉय जॉब इन दिल्ली

जमादारनी – साहब आप तो शादी वाले मर्द हो तो मुझ से इस तरह बात क्यों ? दीदी संतुष्ट नहीं कर पा रही क्या ?

मैंने कहा – नहीं नहीं ऐसा नहीं है। तुम्हे देख मैं तुमसे पहली नजर में ही प्यार कर बैठा। मुझ से एक वादा करो !

जमादारनी – क्या?

मैंने कहा – तुम इसके बारे में किसी को कुछ नहीं बताओगी। हमारे बीच जो भी हो रहा है तुम अपने तक ही रखोगी तुम्हे मेरे प्यार की कसम !!

जमादारनी – हाँ हाँ जी बिलकुल ठीक है !!

अब दोस्तों जमादारनी तो ग्वार और बेवकूफ थी इसलिए मैं उसे अपने प्यार में फसा लिया। अब ये तो मुझे भी पता है की उसे अपने से आमिर मर्द के साथ रिश्ता रखने में मजा आ रहा है। चाहिए जो भी वो उसने भी अपने लालच की वजह से ही मेरी ये शर्त मानी।

अब सब कुछ हो चूका था और मुझे बस चुदाई के लिए खाली कमरा चाहिए था।

तो दोस्तों ये थी मेरी अन्तर्वासना कहानी का दूसरा भाग। तीसरा भाग नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक कर के पढ़े।

चुदाई की कहानी 2020; जमादारनी की चुदाई भाग 3

आपको कहानी कैसी लगी?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0

Similar Posts