| | | |

गरीब बर्तन बेचने वाली की बुर चुदाई

दिल्ली के अविश एक सेक्सी जवान बर्तन बेचने वाली के साथ चुदाई कर बैठे। असल में वो तो अपने पुराने कपड़ो के बदले बर्तन ले रहे थे पर नजाने ऐसा क्या हुआ की बर्तन बेचने वाली अपनी सेक्सी टंगे खोल कर अविश को चोदने के लिए बोलने लगी। उनकी देसी कहानी पूरी पढ़े और नीचे कमेंट कर के जरूर बताए की आपको कहानी किसी लगी।


गरीब बर्तन वाली की चुदाई

मेरा नाम अविश है उम्र 25 साल और मैं दिल्ली से हूँ आज मैं आप सभी को अपनी देसी रैंड बर्तन वाली की चुदाई बताउगा जो मुझ से प्यार कर बैठी। अब दोस्तों हुआ क्या मैं घर पर अकेला था और उसी वक्त 2 बर्तन वाली मेरे घर के सामने से गुजर रही थी। मैंने सोचा अपने पुराने कपड़ो के बदले कोई बर्तन ले लेता हूँ। मैंने उनमे से एक को रोका और वो मेरे घर के अंदर आ गई। दूसरी वाली किसी पड़ोस के घर में जा चुकी थी।

वो बर्तन वाली गोरी थी और उसका मुँह लाल था। दिखने में काफी जवान लग रही थी करीब 21 साल की होगी। वो थी तो गरीब पर उसके चेहरा काफी सुंदर था। उसकी चूचिया और गांड कितनी बड़ी थी ये तो अंदाजा लगाना मुस्खिल था क्यों की सपने अपना शरीर कपड़ो से ढक रखा था।

बर्तन वाली – हाँ साब !! दिखाओ पकड़े !!

अविश – हाँ रुको अभी लाया !!

मैं अंदर गया और जल्दबाजी मैं अपने पुराने पकड़े निकालने लगा। मैं वापस आकर उसको अपने पुराने कपड़ो की एक गठरी पकड़ा दिया। वो एक एक कर सारे कपड़े खोलने लगी और देखते हुए मुझे से हल्की फुलकी बाते करने लगी।

तभी अचानक मेरा पुराना कच्छा उन कपड़ो में से निकलगया। उस कच्छे पर मेरे झाड़े हुए माल के दाग थे जिस कारण वो लंड की तरफ से अकड़ा हुआ था।

बर्तन वाली ये देख शर्मा कर मुस्कुराने लगी और मैंने झट से अपना कच्छा खींच कर कहा “क्या क्या ?? हस रही हो !!”

बर्तन वाली ने कहा “साहब काफी भरे हुए लगते हो आप !!” ये सुनकर मेरा दिमाग नहीं चला और मैं बोला “काम करो तुम अपना !!”

गरीब की अन्तर्वासना कहानी

मैं पानी पीकर वापस आया तो देखा बर्तन वाली ने अपने ब्लाउज को आधा खोल कर अपनी चूचिया आधी बाहर निकाल राखी थी। इस तरह वो अपनी चूचिया मुझे दिखते हुए बोली साहब और पकड़े क्यों नहीं दिखते ?

मैं हैरानी से उसकी तरफ देखने लगा। वो धीरे से उठी और फिर अपने घागरे को उठा कर अपनी गांड बाहर निकल कर मुझे देखने लगी। उसकी गोरी सुंदर गांड देखकर मेरा दिल तेजी से धड़कने लगा। उसका देसी रसीला शरीर और बाहर निकली हुई गांड देखर मेरा लंड खड़ा हो गया। मैं धीरे से आगे बढ़ा और डरवाना बंद कर नीचे बैठा और उसके चूतड़ों को चूमने लगा। उसकी नरम गोरी गांड को मैं अपने होठो से चूमे लगा और बीच में मुँह घुसा कर उसकी गढ़ो सूंघने लगा।

उस बंजारन का बदन गर्म हो रहा था और मेरा लंड भी लार टपका रहा था। दिखने में वो गरीब थी पर सके कपडको दे अंडे काफी सेक्सी माल अपनी था। मैंने जोर जोर से उसकी गांड को नोचना चेतना शुरू कर दिया और वो अपना ब्लाउज उतरने लगी। उसके बाद मैं खड़ा होकर उसको अपने पास खींचा और उसे होठो पर चूमने लगा।

बंजारन ने गहरी सासे लेते हुए मुझे देखा और अपना हाथ मेरे पजामे में घुसने लगी। उसने हाथ घुसा कर मेरा गर्म खड़ा लिंग अपने हाथ से हिलाना शुरू कर दिया। देखते ही देखते मुझे उस से प्यार हो गया। मैं पीछे उसकी गांड चुत में ऊँगली कर रहा था और वो मेरे लंड को हिलाये हुए मुझे धीरे धीरे होठो पर चुम रही थी। हम्म अम्म अहह ममम अह्ह्म्म !!! मैंने उसका मुँह खोला और उसके अंदर थूक कर उसकी जुबान चूसने लगा। उसने मेरा थूक निगल कर मेरे लंड को और जोर जोर से हिलना शुरू कर दिया।

मैं उसकी गर्दन पकड़ा और फिर उसके दिवार से चिपका कर उसको घूरता रहा। वो मेरा लंड बिना रुके हिलाती रही और मैं उसकी चूचिया ब्लाउज और ब्रा के ऊपर से दबाने मसलने लगा। हमदोनो ही गर्म हो गए थे और चुत लंड से पानी झाड़ना चाहते थे।

मैं जल्दी से उसकी कच्छी उतारा और अपने लंड को उसके बड़े मुलाम चूतड़ों के बीच घुसाने लगा। लंड अंदर घुसा कर मैंने उसके चुत के गढ़े में घुसाया और फिर अपनी एक ऊँगली उसकी गांड के छेद में। इस तरह मैं उसके दोनों जगह चोदने लगा और वो भी नीचे से अपनी चुत रगड़ने लगी। उसकी योनी लसलसी होती जा रही थी और नीचे से लम्बी गंदे पानी की लारे निकलती जा रही थी।

मैंने घुसकी गांड में अपनी उनलगी आगे पीछे कर उसे चोदना शुरू कर दिया और वो अपनी प्यारी नरम आवाज में अश्लील आवाजे निकालने लगी। ये देख मेरा भी जोर बढ़ गया और मैं उसे और जोर जोर से चोदने लगा। उसके बाद मैंने उसे पलटा और उसे दिवार से चिपका कर अपनी तरफ मुँह करवाया और उसकी टांगे खड़े खड़े फ्ला कर उसकी चुत में अपना टोपा अंदर बाहर करने लगा। सेक्सी गरीब बंजारन मुझे प्यार से दखते हुए मुझे होठो पर चूमने जा रही थी। मैं जोर से उसकी गांड दबोच कर उसपर अपने हाथो की छपाई छोड़ दिया।

जवान लड़की कापे जा रही थी और मेरी कमर रुक नहीं रही थी। उसके चेहरे की मासूमियत देख मेरा उसे चूमने का मन करता फिर नीचे उसका रसीला सेक्सी शरीर देख बन करता उसके सारे छेदो को बिना रुके चोदता रहु। उसकी जहटते बड़े थी और चूचिया गुलाबी थी। मैं उसके होठो को चूमने के थोड़ी थोड़ी उसकी चूचिया चूसने लग जाता। देसी औरत के साथ सेक्स करने का मजा ही कुछ और है। उसके शरीर का हर एक हिंसा नरम और किसी गुलाब की पंखड़ी की तरह था। हाथ लगते ही मनो उसके चोट लग जाए।

बंजारन – अहह मम अम्म्म अहह अहह साहब !!! अहह मम

रविश – अहह अम्म अहह अहह हहह अहह अम्म कक्क अम्म्म !! साली रांड !!

बंजारन – अहह साहब निकलने वाला है !! अहह अहह अहह !!

बाद बाद चुत लंड की गन्दी आवाजे और चुत से झड़ता पानी हमदोनो की टांगे गीली कर रहा था। वो मुझे देखते हुए कपकपाने लगी और चुत से सारा पानी छोड़ने लगी। मेरी गीली जोर जोर से उसकी चुत पर मार लगाते रहे। और अगले ही पल मेरा लंड लंड पानी छोड़ दिया। उसके प्यार में मैं इतना खो गया की मैं उसके अंदर अपना पानी छोड़ दिया। उसके बाद मैंने उसे अपनी गोद में उठाया और उसे चूमता हुआ सोफे पर बैठ गया। मैंने पास पड़ा कंबल उठाया और हमदोनो के नंगे बदन को ढक कर उसके प्यार से चूमता हुआ उसकी बड़ी रसीली चूचिया अलग अलग तरह से नोचता दबाता रहा।


ये थी मेरी और मेरी बर्तन वाली की चुदाई कहानी। उसके बाद उसने मुझे अपना नंबर दिया और मैं उसका बॉयफ्रेंड बन गया। इस तरह मैं उसको कभी कभी महंगी जगह घूमने ले जाता और वो बदले में मुझे अपनी चुत देती।

आपको कहानी कैसी लगी?
+1
8.2k
+1
875
+1
22
+1
19
+1
4
+1
5
+1
4

Similar Posts

4 Comments

  1. My whataap no (7266864843) jo housewife aunty bhabhi mom girl divorced lady widhwa akeli tanha hai ya kisi ke pati bahar rehete hai wo sex or piyar ki payasi haior wo secret phon sex yareal sex ya masti karna chahti hai .sex time 35min se 40 min hai.whataap no (7266864843)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *